शिक्षा मंत्री का 65000 पारा शिक्षकों को संदेश, नियमावली लागू होने में कोई रोक नहीं सकता

0 1,167

रांची। कोरोना वायरस संक्रमण को मात देकर करीब एक साल 23 दिन बाद अपने गृह क्षेत्र चिरुडीह पहुंचे झारखंड के शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो अपनों के बीच पाकर काफी भावुक हो गये. उन्होंने इसके साथ ही मीडिया को दीये बयान में कहा कि आनेवाला समय रोजगार का होगा. हेमंत सरकार नौकरियों की सौगात देगी. सभी विभागों में पद सृजन को लेकर प्रक्रिया की जा रही है. जिसकी शुरुआत शिक्षा विभाग से ही होने जा रहा है.

काफी दिनों बाद अपने गांव आने पर ग्रामीणों ने शिक्षा मंत्री जगरनाथ महतो को जोरदार स्वागत किया.

जल्द ही 26 हजार शिक्षकों की नियुक्ति सरकार करेगी. जिसकी बहाली कुछ दिनों के अंदर निकलने वाली है. 26 हजार में 13 हजार पद पारा शिक्षकों के आरक्षित होगा. जिसके बाद 71 हजार शिक्षकों की बहाली को लेकर फाइल प्रक्रियाधीन है. इस पर भी जल्द सहमति मिल जायेगी.

 

पारा टीचर का मुद्दा हमारे लिए सबसे जरूरी 

मंत्री जगरनाथ महतो ने कहा कि हमारा प्रमुख एजेंडे में पारा टीचर है. पारा शिक्षकों को जल्द ही सौगात मिलेगी. हम दिन-रात एक कर पारा शिक्षकों के हित के लिए सोच रहे हैं. उन्होंने कहा कि गारंटी के साथ कहते हैं कि 1932 के खतियान को लागू करने में कोई नहीं रोक सकता है. थोड़ा अड़चन है, लेकिन हमलोगों ने काम शुरू कर दिया है. नियमावली एकदम लागू होगा.