भारतीय महिला हॉकी टीम में झारखंड की चार खिलाड़ियों का चयन

0 48
IPRD_728x90 (II)

रांची: भारतीय महिला हॉकी टीम में झारखंड की चार खिलाड़ियों का एक साथ चयन हुआ है। बताया जाता है कि स्पेन में 27 नवंबर से 18 दिसंबर तक होने वाली एफआईएच महिला हॉकी राष्ट्र कप में भारतीय महिला हॉकी टीम में झारखंड की हॉकी खिलाड़ी निक्की प्रधान, सलीमा टेटे, संगीता कुमारी और ब्यूटी डुंगडुंग देश के लिए खेलेंगी। यह जानकारी हॉकी इंडिया के एक्सक्यूटिव डायरेक्टर आरके श्रीवास्तव और हॉकी झारखंड के महासचिव विजय शंकर सिंह ने दी। हॉकी झारखंड के अध्यक्ष भोलानाथ सिंह ने कहा कि झारखंड के लिए यह गौरवपूर्ण क्षण है। वर्तमान समय में भारतीय टीम में जगह बनाना बहुत बड़ी उपलब्धि है। भारतीय महिला हॉकी टीम ओलंपिक और विश्वकप जैसे बड़े-बड़े प्रतियोगिताओं में क्वालीफाई कर रही है और अच्छे पोजिशन तक पहुंच रही है। निक्की प्रधान- खूंटी जिले के मोरो प्रखंड अंतर्गत पेरोल गांव में आज तक एक खेल का मैदान नहीं बना है। इसके बावजूद वह बड़ी बहनों से प्रेरणा लेकर नंगे पांव हॉकी की शुरुआत की। वह झारखंड की पहली हॉकी खिलाड़ी है जो दो-दो ओलंपिक खेल कर इतिहास रच चुकी है। विश्व के सभी बड़े प्रतियोगिताओं ओलंपिक गेम्स, वर्ल्ड कप, कॉमनवेल्थ गेम, एशिया कप सहित सभी बड़े-बड़े टूर्नामेंटों में भारतीय महिला हॉकी टीम का प्रतिनिधित्व करते हुए कई कीर्तिमान बना चुकी है। सलीमा टेटे- सिमडेगा जिले के सदर प्रखंड अंतर्गत बड़की छपार गांव में आज भी मोबाइल सिग्नल के लिए चट्टान या पेड़ों का सहारा लेना पड़ता है। इस गांव से कोसों पैदल चलकर या पिता सुलक्षण टेटे के साइकिल में बैठ कर विद्यालय और गांव की टीम से खस्सी कप मुर्गा कप हॉकी प्रतियोगिताओं से हॉकी की शुरुआत सलीमा ने की। वह सिमडेगा जिला की प्रथम महिला ओलंपियन है। विगत तीन-चार वर्षों में ही ओलंपिक गेम्स, वर्ल्ड कप, एशिया कप, कॉमनवेल्थ गेम्स जैसे कई बड़े टूर्नामेंटों में भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व उसने किया है। संगीता कुमारी- हॉकी की नर्सरी सिमडेगा जिला के केरसई प्रखंड अंतर्गत करंगागुडी नवा टोली गांव में आज भी बरसात के दिनों में अपने पैर के जूते चप्पलों को हाथ में लेकर चलना पड़ता है। ऐसे गांव से बेहद गरीब परिवार से पल बढ़कर बांस की स्टिक और उसके जड़ से हॉकी की शुरुआत करते हुए संगीता कुमारी विगत एक वर्ष में कॉमनवेल्थ गेम, एफआईएच हॉकी लीग में जलवा दिखा चुकी है। इससे पूर्व जूनियर एशिया कप इत्यादि कई प्रतियोगिताओं में भी भारतीय टीम का प्रतिनिधित्व कर चुकी है। ब्यूटी डुंगडुंग- सिमडेगा जिला के केरसई प्रखंड अंतर्गत खिलाड़ियों के गांव करंगागुड़ी बाजू टोली की ब्यूटी डुंगडुंग के परिवार के सदस्य पीढ़ी दर पीढ़ी अच्छे हॉकी खिलाड़ी रहे हैं। उसके परिवार में दादा, पिता, चाचा, तीन बड़े भाई, भाभी भी राष्ट्रीय हॉकी खिलाड़ी रहे हैं। ब्यूटी विगत 2018 से जूनियर भारतीय टीम से देश के लिए खेल चुकी है। इस वर्ष पहली बार सीनियर भारतीय महिला हॉकी टीम के लिए चुनी गई है।

IPRD_728x90 (I)