बिशुनपुर में भीषण सड़क हादसा, तीन बाइक सवार युवकों की मौत

रांची नेतरहाट मुख्य सड़क पर बाइक व बॉक्साइट ट्रक की भीषण टक्कर हो गई

0 555
IPRD_728x90 (II)

गुमला: बिशुनपुर थाना क्षेत्र के कोकोटोली गांव के समीप सोमवार को रांची नेतरहाट मुख्य सड़क पर बाइक व बॉक्साइट ट्रक की भीषण टक्कर हो गई। इससे बाइक सवार लालू ठाकुर (30 ) ग्राम गोराटोली बनारी की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। वहीं एक अन्य Bike सवार सुरज महली ने अस्पताल ले जाने के दौरान दम तोड़ दिया।

जानकारी के अनुसार तीनों युवक एक Bike में सवार होकर बिशुनपुर की ओर तेज रफ्तार से आ रहे थे। इसी दौरान विपरीत दिशा से आ रहा अज्ञात बॉक्साइट ट्रक ने जोरदार टक्कर मार दिया। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बाइक ट्रक में चिपक कर एक किलोमीटर दूर बनारी नाका के पास गिरा। वहीं बाइक सवार लालू ठाकुर और बजरंग की घटनास्थल पर ही मौत हो गई।

आक्रोशित ग्रामीणों ने रांची नेतरहाट मुख्य सड़क को जाम कर दिया

इधर घटना की जानकारी मिलते ही बिशुनपुर थाना प्रभारी सदानंद सिंह के द्वारा 108 एंबुलेंस की सहायता से घायल युवक को बिशुनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया, जहां पर चिकित्सक नदारद दिखे। इसके उपरांत नर्सों के द्वारा प्राथमिक उपचार के बाद बेहतर इलाज के लिए सुरज महली को गुमला सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया। जबकि उक्त युवक की सदर अस्पताल ले जाने के क्रम में मौत हो गई। बिशुनपुर पुलिस के द्वारा शव को कब्जे में कर कर गुमला पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इधर आक्रोशित ग्रामीणों ने रांची नेतरहाट मुख्य सड़क को जाम कर दिया।

घटना के बाद आक्रोशित ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों ने कोकोटोली गांव के समीप सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बिशुनपुर व प्रखंड प्रशासन की लचर व्यवस्था को देखते हुए रांची नेतरहाट मुख्य सड़क को 9:30 बजे से 11:30 बजे तक जाम कर दिया। इससे सड़क की दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई। ग्रामीणों का कहना था कि प्रखंड में इतनी बड़ी घटना हो जाने के बावजूद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में एक भी डॉक्टर मौजूद नहीं था। जबकि बिशुनपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में दो डॉक्टर पदस्थापित हैं।

वहीं ग्रामीण व जनप्रतिनिधि मृतक के परिजनों को तत्काल उचित मुआवजा व प्रधानमंत्री आवास की मांग कर रहे थे। जिसके बाद अंचलाधिकारी धनंजय पाठक, कल्याण पदाधिकारी गणेश राम महतो व थाना प्रभारी सदानंद सिंह के द्वारा ग्रामीणों को काफी समझाया बुझाया गया। इसके बाद कल्याण पदाधिकारी ने तत्काल तीनों मृतक के परिजनों को पांच पांच हजार रुपए और पचास पचास किलो चावल देने की बात कही। इसके बाद जाम हटा लिया गया।

IPRD_728x90 (I)