बूचा नरसंहार के बाद रूस पर नए प्रतिबंध, पुतिन की बेटियों की संपत्ति फ्रीज

0 144

ब्रसेल्स। यूक्रेन की राजधानी कीव के पास बूचा में 410 नागरिकों की बर्बर हत्या के बाद रूस के खिलाफ प्रतिबंधों का दौर बढ़ता जा रहा है। यूरोपीय संघ ने रूस के खिलाफ पांचवें नए प्रतिबंधों की घोषणा की, जिसमें रूसी कोयले पर प्रतिबंध लगाया गया है। इसके अलावा रूसी जहाजों को यूरोपीय संघ के 23 देशों के बंदरगाहों तक जाने से रोक दिया गया। इसी कड़ी में अमेरिका ने बुधवार को रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन की दो वयस्क बेटियों की संपत्ति पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की।

अमेरिका ने कहा कि यह यूक्रेन में युद्ध अपराधों के लिए जवाबी कार्रवाई में रूसी बैंकों के खिलाफ दंड को और सख्त कर रहा है। सर्बैंक और अल्फा बैंक की संपत्ति के खिलाफ अमेरिकी वित्तीय प्रणाली में शामिल होने से रोका गया है।

अमेरिका ने पुतिन की वयस्क बेटियों मारिया पुतिना और कतेरीना तिखोनोवा पर लगाए गए प्रतिबंधों के अलावा प्रधानमंत्री मिखाइल मिशुस्तिन को भी निशाना बनाया है। इसमें रूसी विदेश मंत्री सर्गेई लावरोव की पत्नी, बच्चे और पूर्व राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री व रूस की सुरक्षा परिषद के सदस्य दिमित्री मेदवेदेव भी शामिल हैं। पुतिन के परिवार के सभी करीबी सदस्यों को अमेरिकी वित्तीय प्रणाली से अलग कर दिया गया है। संयुक्त राज्य अमेरिका में उनके पास मौजूद किसी भी संपत्ति को फ्रीज कर दिया गया।

व्हाइट हाउस ने कहा कि अमेरिका, जी7 और यूरोपीय संघ ने रूस पर यूक्रेन में बूचा सहित उसके अत्याचारों के लिए तत्काल और गंभीर कार्रवाई की है। इनमें रूस में नए निवेश पर रोक, सबसे बड़े वित्तीय संस्थान सर्बैंक और रूस के सबसे बड़े निजी बैंक अल्फा बैंक पर प्रतिबंध शामिल हैं।