रांची के छात्र विवान का नाम इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज

0 375

रांची। रांची के जवाहर विद्या मंदिर, श्यामली के पहली कक्षा के छात्र विवान शौर्या ने 129 पेंटिंग बनायी है। विवान की उम्र अभी छह वर्ष है। पेंटिंग बनाने के लिए इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स 2022 में विवान का नाम दर्ज किया गया है।

विवान ने बड़े आकार ए-3 साइज और उससे भी बड़े आकार के पेपर पर 129 पेंटिंग्स ऑयल पेस्टल रंगों से बनाई है। पेंटिंग्स बनाते हुए वीडियो भी बनाया है। इसके लिए विवान को इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड्स की ओर से प्रमाणपत्र और मेडल दिये गये हैं। इस उपलब्धि के लिए माता-पिता समेत परिवार के सदस्य विवान पर गर्व कर रहे हैं।

Site&Content_300x250

विवान ने गणेश भगवान, गौतम बुद्ध, श्रीकृष्ण, समुंद्री जीवन, पशु-पक्षी, जीव-जंतु, प्रकृति, अंतरिक्ष सहित 129 पेंटिंग्स बनायी है। विवान ने 129 पेंटिंग्स को बनाते हुए वीडियो बनाया और उस वीडियो को इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड्स को भेज दिया । वीडियो का सत्यापन करने के बाद उसके इस रिकॉर्ड को इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में दर्ज किया गया।

विवान के गुरु और पिता धनंजय कुमार खुद भी प्रख्यात चित्रकार हैं। कलाकृति स्कूल ऑफ आर्ट्स के संथापक हैं। उन्होंने बताया कि विवान ने दो वर्ष की छोटी उम्र से ही पेंटिंग बनानी शुरू कर दिया था। छोटे से ही अपने पिता के मार्गदर्शन में चित्रकारी सीख रहा था। लॉकडाउन के समय का सदुपयोग कर विवान ने पेंटिंग्स बनाना शुरू किया और लगभग 150 से अधिक पेंटिंग्स बनाई।

इस दौरान विवान ने 20 से अधिक अंतरराष्ट्रीय, राष्ट्रीय, राज्य और जिलास्तर के पुरस्कार भी प्राप्त किये। विवान की माता रजनी कुमारी ने बताया कि विवान पेंटिंग के अलावा एक्टिंग, रोल प्ले, कहानी वचन, भाषण, कविता वचन और पियानो में भी अपनी प्रतिभा बड़े- बड़े मंच पर प्रदर्शित कर पुरस्कार जीत चुका है।