ईद और परशुराम जयंती पर सड़क पर न हो कोई धार्मिक आयोजन: योगी

0 170

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की सड़कों पर मंगलवार को अक्षय तृतीया एवं ईद के अवसर पर कोई भी धार्मिक आयोजन नहीं हो सकेगा। प्रदेश में शांति बनाए रखने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने उच्चाधिकारियों की एक बैठक के दौरान कहा कि तीन मई को ईद, परशुराम जयंती और अक्षय तृतीया का पावन पर्व है। वर्तमान परिवेश को देखते हुए पुलिस प्रशासन को अतिरिक्त संवेदनशील रहना होगा। हर एक पर्व शांति और सौहार्दपूर्ण माहौल के बीच सम्पन्न हों, इसके लिए स्थानीय जरूरतों को देखते हुए सभी जरूरी प्रयास किए जाएं। धार्मिक कार्यक्रम, पूजा-पाठ आदि निर्धारित स्थान पर ही हों। धर्मगुरुओं से संवाद बनाकर यह सुनिश्चित करें कि सड़क मार्ग, यातायात बाधित कर कोई धार्मिक आयोजन न हो।

मुख्यमंत्री के निर्देश से स्पष्ट है कि प्रदेश की सड़कों पर कोई भी धार्मिक आयोजना नहीं हो सकेगा। मसलन सड़क पर न तो कोई नमाज पढ़ सकेगा और न ही जुलूस निकलेगा। इसके लिए अधिकारियों को सीधे तौर पर निर्देश दिए गए हैं। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों सड़क पर नमाज पढ़ने के लिए कुछ लोगों ने बवाल किया था। पुलिस की सक्रियता के बाद मामला ठंडा पड़ा था। सरकार नहीं चाहती कि प्रदेश में ऐसा माहौल बने।