योगी सरकार 2.0 : तीन माह में 778 अपराधियों पर हुई गैंगस्टर की कार्रवाई

0 317
IPRD_728x90 (II)

लखनऊ। कानून व्यवस्था को लेकर प्रदेश में दोबारा से बनी योगी सरकार ने जीरो टॉलरेंस नीति को बरकार रखा है। प्रदेश को अपराध मुक्त और अपराधियों के खिलाफ गैंगस्टर की धारा 14 (1) का पूरा इस्तेमाल करते हुए अपराध से अर्जित की गई सम्पत्तियों को जब्तीकरण की कार्रवाई की। यही कारण है कि योगी 2.0 सरकार के कार्यकाल में पहले 100 दिन के लिए तय किए गए टॉरगेट को तीन माह में ही पार कर उप्र पुलिस अन्य विभागों से सबसे आगे निकल गई है।

03 माह में 778 अपराधियों पर गैंगस्टर की कार्रवाई
अपर पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने यह जानकारी देते हुए बताया कि उप्र पुलिस ने महज तीन माह में यानी मार्च 2022 से मई 22 में कुल 788 अपराधियों के विरुद्ध गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की। इसके अलावा गैंगस्टर एक्ट की धारा 14 (1) के पूरा पालन करते हुए 06 अरब 61 करोड़ 78 लाख 05 हजार, 123 रुपये की अपराध से अर्जित अवैध सम्पत्ति को भी प्रदेश भर में जब्तीकरण की कार्रवाई की है।

62 अपराधियों पर की जा रही मानीटरिंग
एडीजी ने यह भी बताया कि मार्च 2022 में कुख्यात अपराधियों की नये स्तर से समीक्षा करते हुए शासन ने 50 माफियाओं और पुलिस मुख्यालय से 12 माफियाओं को चिन्हित किया है। जबकि 62 माफियाओं और उनके गैंग के खिलाफ योजनाबद्ध तरीके से पुलिस मुख्यायलय से मानीटरिंग करते हुए कार्रवाई की जा रही है।

500 करोड़ की सम्पत्ती पर कार्रवाई का मिला लक्ष्य

भाजपा की दोबारा सरकार बनने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने दूसरे कार्यकाल के पहले 100 दिन का एजेंडा तय कर लिया है। इसके लिए सभी विभागों को टारगेट देते हुए सही समय पर पूरा करने के निर्देश दिए थे। लेकिन पुलिस ने महज तीन माह में ही 661 करोड़ की सम्पत्ति को जब्त कर रिकार्ड प्राप्त कर लिया है।

1150 माफियाओं पर हुई कार्रवाई

पुलिस मुख्यालय से मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश में 1150 माफियाओं पर कार्रवाई है। इनमें 30 खनन माफिया, 228 शराब माफिया, 168 पशु माफिया, 347 भू माफिया, 18 शिक्षा माफिया, 359 अन्य माफिया शामिल है। जिनकी संपत्तियां चिन्हित कर उन्हें गैंगस्टर एक्ट के तहत जब्त करने कार्रवाई तेजी की जा रही है।

बोले एडीजी प्रशांत कुमार
अपर पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) प्रशांत कुमार का कहना है कि प्रदेश को अपराध मुक्त करने के लिए पुलिस, सरकार के मंशा के रुप कार्य कर रही है। अपराधी किसी भी श्रेणी को हो उसे किसी भी हालत में बख्शा नहीं जायेगा।

IPRD_728x90 (I)